Husband’s Rights in Islam

बेहतरीन शौहर वो है जो
* जो अपनी बीवी के साथ नरमी, खुशदिली और मुहब्बत के साथ पेश आए।
* जो अपनी बीवी के हक़ अदा करने में किसी प्रकार की कोताही ना करे।
* जो अपनी बीवी का इस तरह हो कर रहे कि किसी अजनबी औरत पर निगाह न डाले।
* जो अपनी बीवी को अपने ऐश व आराम में बराबर की शरीक समझे।
* जो अपनी बीवी पर किसी तरह का जुल्म या ज्यादती ना करें।
* जो बीवी की बद्अख्लाकी पर सबर करें।
* जो अपनी बीवी की खूबियों पर नज़र रखे, और गलतियों को नज़रअन्दाज कर दे।
* जो बीवी की मुसिबतों, बीमारियों, रंज व ग़म में उसका भरपूर साथ दे।
* जो अपनी बीवी को परदे में रखकर उसकी हिफाजत करें।
* जो दीनदारी की ताकीद करता रहे और शरीअत की राह पर चलाए।
* जो बीवी को अपनी मेहनत की कमाई खिलाएं।
* जो बीवी के साथ साथ उसके खानदान के साथ भी अच्छा सलुक करे।
* अपनी बीवी के सामने किसी दूसरी औरत की खुबसूरती की तारीफ न करे।
* जो बीवी को इस तरह कन्ट्रोल रखे कि वह किसी बुराई की तरफ रुख नही करे।
* जो अपनी बीवी पर एतमाद व भरोसा रखे।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: